क्या कहा सुषमा स्वराज ने जब दो मुस्लिम नौजवान ने उन्हें अपनी किडनी देने की पेशकश की ?


जैसा की हम सभी जानते हैं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की किडनी खराब हो गई है और वह इस वक्त एम्स में भर्ती हैं | नई किडनी का प्रतिरोपण करने के लिए अस्पताल में उनके टेस्ट किए जा रहे हैं| सुषमा ने अपने स्वास्थ्य सम्बंधित यह खबर बुधवार को ट्विटर के जरिये दी और तब से सैकड़ों लोगों ने उन्हें अपनी किडनी दान देने की पेशकश की है |



64 वर्षीय बीजेपी नेता को दो मुस्लिम नवयुवक मुजीब अंसारी और नियामत अली शाइक  ने अपनी किडनी दान करने की पेशकश की| इसपर उसका आभार जताते हुए उन्होंने कहा कि किडनी पर धर्म का कोई ठप्पा नहीं होता.


मुजीब अंसारी नाम के व्यक्ति ने उन्हें किडनी दान करने की पेशकश करते हुए ट्विटर पर लिखा था कि वह मुस्लिम हैं, उत्तर प्रदेश से हैं और साथ ही बसपा समर्थक हैं |

इसके बाद सुषमा ने ट्वीट किया, ‘‘भाइयों आपका बहुत बहुत धन्यवाद. मुझे यकीन है, किडनी पर धर्म का कोई ठप्पा नहीं होता |’’


अंसारी ने ट्वीट किया था, ‘‘सुषमा स्वराज मैम, मैं बसपा का समर्थक हूं और एक मुस्लिम हूं लेकिन मैं आपके लिए अपनी किडनी दान करना चाहता हूं, मेरे लिए आप मां समान है, अल्लाह आपको बरकत दे "|


एक अन्य मुस्लिम व्यक्ति नियामत अली शाइक ने भी जरूरत पड़ने पर विदेश मंत्री को किडनी देने की पेशकश की. इसके साथ ही कई अन्य मुस्लिम नवयुवकों ने उन्हें अपनी किडनी देने की पेशकश की|


Powered by Blogger.