सोशल मीडिया पर छाया दिल्ली सरकार का SMREE(SMART +FREE) कैंपेन

हाल के दिनों से ही दिल्ली सरकार द्वारा सोशल मीडिया पर SMREE कैंपेन चलाया जा रहा है| आइये समझते हैं कि आखिर क्या है ये SMREE कैंपेन.

Photo Credit: India Today










पानी के बिल 20 लीटर तक माफ

केजरीवाल सरकार ने  दिल्ली में पानी मुफ़्त कर रखा है, 20 हज़ार लीटर प्रति माह तक का बिल बिल्कुल मुफ़्त है। 20 हज़ार से ऊपर खर्च करने वाले परिवार को पूरा बिल चुकाना होगा। दरसरल आम आदमी पार्टी के द्वारा इसे एक स्मार्ट कदम माना जा रहा है। उनके मुताबिक दिल्ली जल बोर्ड मुफ्त में पानी देने के वाबजूद भी 178 करोड़ का मुनाफा कमा रही है। 20 हजार लीटर तक पानी मुफ्त होने की वजह से अब दिल्ली में लोग पानी की बचत करने लगे हैं ताकि वो भी इस योजना का लाभ उठा सकें। इसके अलावा वो पानी की मीटर लगवा रहे है ताकि मुफ्त पानी का फायदा उन्हें भी मिल सके। चूंकि दिल्ली सरकार की इस योजना का लाभ सिर्फ पानी-मीटर वाले को मिलने का प्रावधान है|
इससे पानी की बचत भी हो रही है और पानी के कनेक्शन लेने से दिल्ली सरकार को मुनाफा भी।
दिल्ली सरकार का दावा है कि उन्हें अच्छा रेवेन्यू मिल रहा और जनता को भी इसका फायदा मिल रहा है। इसलिए उन्होंने इसे Smart+free यानी कि Smree का नाम दिया|

जरूर पढ़ें- नितीश सरकार के 76% मंत्री दागी, महागठबंधन सरकार के मुकाबले कई ज्यादा

बिजली का बिल हाफ
‘आप’ शासित दिल्ली सरकार के एक वरिष्ठ नेता के अनुसार दिल्ली में बिजली बिल से जुड़ी काफी समस्याएं और शिकायतें मिलती रहती थी और बिजली का रेट भी काफी ज्यादा था।
अरविन्द केजरीवाल ने अपने चुनावी रैलियों में बिजली बिल सस्ता करने का वादा भी किया था । सरकार बनते ही उन्होंने बिलजी की रेट 50% तक कम कर दिया और अपना वायदा भी पूरा किया।
पानी की तरह बिजली में भी एक तयसीमा रखा गया| इस योजना का लाभ 400 यूनिट तक मिलता है। इसकी वजह से लोगों की कोशिश रहती है कि वो 400 यूनिट से कम बिजली खर्च करे| अतः इस योजना से बिजली की बचत भी हो रही है और आम लोगों को फायदा भी। एक रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली के 80% लोगों को केजरीवाल सरकार के बिजली स्कीम से लाभ मिल रहा है। लोगों ने अब अपना कनेक्शन लगवाना शुरू कर दिया है ताकि वो आधी कीमत पर बिजली का लुफ्त उठा सके इससे दिल्ली सरकार को भी काफी मुनाफा हुआ है।

स्पतालों में सभी प्रकार के जांच,दवाईया मुफ्त
केजरीवाल सरकार का दावा है उन्होंने स्वास्थ्य विभाग में काफी काम किया है। उनके अनुसार दिल्ली में अब तक 200 से ज्यादा मोहल्ला क्लिनिक खोले जा चुके हैं और इस साल के अंत तक 1 हज़ार क्लिनिक और खुलेंगे। मोहल्ला क्लिनिक दिल्ली के लोगो के बीच काफी लोकप्रिय बना हुआ है। सभी क्लिनिक में लगभग 50 प्रकार के जांच बिल्कुल मुफ्त किये जाते है, दवाइयां मुफ्त मिलती है और अब लोगो को ज्यादा दूर ना जाकर अपने घर के बगल में ही इलाज़ कराने को मिल जाता है। पहले लोगों को छोटी बीमारियों के लिए भी बड़े बड़े अस्पतालों में जाना पड़ता था। अब मोहल्ला क्लिनिक होने की वजह से सभी अपने मोहल्ले में ही छोटी बीमारियों का इलाज़ आसानी से करा लेते हैं|

बड़े-बड़े बीमारियों और उनकी जांच के लिए भी केजरीवाल सरकार नई स्कीम लाई है। इस योजना के अनुसार अगर सरकारी अस्पताल में मरीज को सर्जरी  के 1 महीने से ज़्यादा का समय लिखा जाता है तो मरीज अब किसी भी प्राइवेट अस्पताल में अपना इलाज करा सकते है, और इस इलाज़ का पूरा खर्च दिल्ली सरकार उठाएगी। ‘आप’ सरकार का मानना है कि इस स्कीम से जनता को काफी लाभ मिलेगा और किसी भी प्रकार की बीमारी का इलाज जल्द से जल्द करा सकेंगे।

शिक्षित राष्ट्र - समृद्ध राष्ट्र
दिल्ली सरकार के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया दावा करते रहे हैं कि सरकार ने शिक्षा के क्षेत्र में क्रांति ला दी है। उनके अनुसार पिछले 2 सालों में 8000 नए क्लास रूम और 54 मॉडल स्कूल बनाए गए हैं। 54 मॉडल स्कूलों में बेहतरीन इंफ्रास्ट्रक्चर के साथ बच्चों को नई-नई चीजे सीखने को मिले उसके लिए कंप्यूटर लैब्स, केमिस्ट्री लैब्स, खेलने खुदने के लिए प्ले-ग्राउंड्स की व्यवस्था की गई है। ताकि पढ़ाई के साथ-साथ छात्र एक्स्ट्रा एक्टिविटीज़ पर भी ध्यान दे सकें। प्राइवेट स्कूलों की तरह सरकारी स्कूलों में भी पेरेंट्स-टीचर्स मीटिंग होते है ताकि पेरेंट्स अपने बच्चों के एक्टिविज़ की जानकारी रह सकें। प्रिंसिपल और शिक्षकों को IIM , Cambridge  जैसे संस्थाओं में ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है।
दिल्ली के शिक्षा रोज़ 2-3 स्कूलों का औचक निरक्षण करते है ताकि खामियों का पता चल सके।
स्कूलों में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए है ताकि बच्चों की सुरक्षा का ध्यान रखा जा सके।



तो आपने देखा ऊपर केजरीवाल सरकार द्वारा लाए गए काफी योजनाओं से जनता को लाभ मिल रहा है| इस योजना का लाभ उठाने के लिए जनता को कोई कीमत भी नहीं देनी पड़ रही और दिल्ली सरकार को इससे राजस्व भी मिल रहा है| इसी को दर्शाने के लिए दिल्ली सरकार SMREE(SMART +FREE) कैंपेन चला रही है|









Share Your Views Below In Comment Box


Powered by Blogger.