नीतीश जी का DNA पहले खराब था या अब है, देश को बताएं मोदी जी ....तेजस्वी यादव ने किया सवाल

Photo Credit: ABPNews
पिछले महीने बिहार में जो राजनीतिनिक भूचाल आया उसके बाद से बिहार की राजनीति बेहद ही दिलचस्प हो गई।
नितीश कुमार ने अचानक से इस्तीफा देकर सबको चौंका दिया, लेकिन समय बीतते ही सब कुछ साफ़ हो गया। नितीश कुमार ने महागठबंधन तोड़ भाजपा के साथ सरकार बना ली।
इस राजनीतिक घटना क्रम के बाद जो कल तक विपक्ष में थे अब सत्ता में आ गए और जिन्हें सत्ता मिली थी वो विपक्ष में आ गए।
राजनीतिनिक गलियारों में नितीश कुमार को कुर्सी का लोभी बताया जा रहा है।
राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने नीतीश कुमार पे आरोप लगाते हुए कहा कि नीतीश पल्टीमार है और वह उनके बेटों के बढ़ते लोकप्रियता से डर गए और भाजपा की गोद मे जाकर बैठ गए।


"जनादेश अपमान यात्रा" पर निकले  तेजस्वी - तेज़
इस घटनाक्रम के बाद राजद ने नीतीश कुमार पर हमला बोल दिया है , पूर्व मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा बिहार की जनता ने महागठबंधन को चुनकर उनको सत्ता दी थी पर नीतीश कुमार ने कुर्सी के लालच और तेजस्वी के बढ़ते कद से घबरा कर भाजपा का दामन थाम लिया।
तेजस्वी अपने बड़े भाई और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज़ प्रताप के साथ जनादेश अपमान यात्रा पर निकले हुए हैं । उनका कहना है कि नीतीश कुमार ने भाजपा के साथ गठजोड़ कर बिहार की जनता का अपमान किया। उन्होंने कहा बिहार की जनता ने महागठबंधन को जिताया था और भजपा को हराया था पर नितीश कुमार जनता का अपमान कर भाजपा के साथ हो लिए।


नितीश के DNA पर ली चुटकी 
उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए पूछा मोदी जी बताओ नीतीश कुमार का DNA पहले ख़राब था या अब है?
साथ ही उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर लिखा, "...जनता के बीच गया हूं, तो जनता कह रही है, नीतीश जी का DNA खराब है... क्या वह अपने DNA की जांच के लिए अब जनता को अपने नाखून और बाल का सैम्पल भेजेंगे...?"


27 अगस्त को पटना में होगी महारैली
27 अगस्त को राजद ने सभी विपक्षी दलों को एक साथ लाने के लिए और "भाजपा भगाओ- देश बचाओ" के नाम से एक महारैली का आयोजन कर रही है। जिसमे सभी विपक्षी दलों के बड़े बड़े नेता शामिल होंगे। उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती भी इस रैली में शामिल होंगी।

Powered by Blogger.