नितीश-मोदी के राज में लालू प्रसाद यादव के क़रीबी नेता केदार राय की गोली मारकर हत्या

बिहार के दानापुर में आरजेडी पार्षद केदार राय की हत्या की खबर सामने आई है।घायल अवस्था में उन्हें पटना के ही एक प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी मौत हो गई। बिहार में बीजेपी के साथ गठबंधन सरकार बनने के बाद लूटपाट और हत्या की घटना बढ़ती जा रही है। आपको बता दें कि गृह मंत्रालय खुद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार देखते है।
Photo Credit: First Post

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, राजधानी पटना में सुबह राजद नेता व वार्ड पार्षद केदार राय की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। सगुना मोड़ रोड के पास सुबह मॉर्निंग वॉक पर निकले राजद नेता को अपराधियों ने गोली मार दी और भाग खड़े हुए।

घाट लागए अपराधियों ने इस घटना को दानापुर के निकट सगुना मोड़ के पास अंजाम दिया है। मिल रही जानकारी के अनुसार राजद नेता व वार्ड पार्षद केदार राय मोर्निंग वाक पर निकले हुए थे। अपराधियों उन पर लगातार 3 गोली मार कर वहां से फरार हो चले। आनन-फानन में उन्हें नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां केदार राय ने दम तोड़ दिया।


इस घटना के बाद बिहार की कानून व्यवस्था पर गंभीर सवाल उठ रहे हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि जब जनता का प्रतिनिधित्व करने वाले पार्षद को दिन-दहाड़े गोली मार दी जा रही है तो आम लोगों की सुरक्षा की क्या गारंटी है।

पुलिस का कहना है कि मामले की जांच होने तक घटना का कारण बता पाना थोड़ा मुश्किल है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बताया जाता है कि केदार यादव राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के काफ़ी करीबी थे। अपराधियों की ओर से फायरिंग में यादव को तीन गोलियां लगी थीं। अभी तक हत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है। शव को पोस्टमार्ट के लिए भेजा गया है और पुलिस जांच में जुट गई है।


बिहार में बढ़ रहा है अपराधियों का हौसला -राजद
जब से जदयू- भाजपा गठबंधन की सरकार बनी है तब से अपराधियों का हौसला बढ़ता जा रहा। राजद ने आरोप लगाया है की अपराधी उनके नेताओ की हत्याएं कर रहे हैं पर सुशासन का दंभ भड़ने वाले नीतीश कुमार अभी तक चुप है।

प्रिंट मीडिया और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की चुप्पी
गौर करने वाली बात यह है कि पहले महागठबंधन सरकार के दौरान छोटी से छोटी अपराध की घटनाओं को लेकर मीडिया में बहस छिड़ी रहती थी| लेकिन जबसे NDA की सरकार बनी है,तबसे सभी मीडिया जगत ने बिहार हो रहे अपराध की घटनाओं पर चुप्पी साध रखी है| 

Share Your Views Below In Comment Box


Powered by Blogger.